Chairman's New Year Message

Chairman's New Year Message



दिनांक 01.01.2020


प्रिय मित्रों,

नयी संभावनाओं के साथ नव बर्ष का आगमन हो गया है। अस्तु, आप सब को नव वर्ष की हार्दिक मंगल कामना । नूतन वर्ष 2020 आपके एवं आपके परिवार के लिए मंगलमय हो ।

लाजिमी हैं कि नव वर्ष में हम थोडा आत्मान्वेषण करें। विभिन्न अवसरों पर मैंने आपको अपने बैंक की स्थिति एवं आपके दायित्व के संबंध में बताया हैं। तथा अपेक्षा की है कि बैंक के विकास में आप भरपूर योगदान करेंगे।
मुझे आशा हैं कि एक प्रबुद्ध बैंकर होने के नाते आप अपनी शाखा व बैंक की वित्तीय स्थिति से भली一 भाँती अवगत होगे । आइए, बैंक की स्थिति के बारे में जानते हैं, जो निम्नवत हैं।

विवरणसिस्टम ग्रोथ / NABARD BENCHMARK ( सितम्बर, 2019 )डीबीजीबी का ग्रोथ ( सितम्बर, 2019 )
जमा 10.03% 3.04%
ऋण 13.31% 1.54%
सकल एनपीए 25.88%
शुद्ध एनपीए 22.00%
CRAR 5.86%


उपरोक्त आँकडे बहुत उत्साहवर्द्धक नहीं हैं। ज्ञात्वय हैं कि मार्च 2019 को बैंक की हानि 227.0 करोड़ थी। आपको मालूम होगा कि नावार्ड तथा भारतीय रिजर्व बैंक द्धारा बैंको हेतु कई शीर्षों में न्यूनतम वांछित स्तर निर्धारित हैं। जिसको पूरा करना अनिवार्य होता है। जैसे एन, पीए लाभ CRAR आदि। हमें पहले बैंक को स्थिति सुधार करने का प्रयास करना चाहिए ।
आइए अब Housekepping की स्थिति देखते हैं। शाखा के भ्रमण के दौरान प्रायः पाया जाता है। कि:
(i)     शाखा स्तर पर Morning Checking नहीं की जाती है या नियमित रूप से नहीं की जाती हैं।
(ii)    Cash book का print शखाओं में उपलब्ध नही रहते हैं। यहाँ तक की Cash Reserve Register की भी नियमित रूप से जांच नही की जाती हैं।
(iii)   शाखा स्तर पर अनिवार्य प्रतिवेदनों को भी सूचित/ प्रिंट नही की जाती हैं।
(iv)   महत्त्वपूर्ण रजिस्टर जैसे-Limit Sanctioned Register, Village wise Register, D.P. Register आदि का रखरखाव नही किया जाता है। किसी-किसी शाखा में है भी तो अधतन नहीं हैं।
आश्चर्य होता हैं, कि अधिकांश शाखा प्रबंधक एवं स्टाफ-सदस्य अपनी शाखाओं के लक्ष्य एवं उपलब्धि से अनभिग रहते हैं , बैंक के लक्ष्य की बात तो छोड़ ही दीजिए।
उपरोक्त कारणों से कमजोर नियंत्रण प्रणाली विकसित हो रही है, परिणामस्वरूप फ्रांड की संख्या में वृद्धि हो रही हैं।

इन परिस्थिति में आप खुद सोचिए कि हमे पहले किस बात पर ध्यान देना चाहिए। अतः मेरा आप सबों से अपेक्षा है किः
(i)     सभी जरूरी पुस्तकाओं का सम्यक रख-रखाव एवं व्यवहार सुनिश्चित करें ताकि नियंत्रण प्रणाली को मजबूत बनाया जा सकें।
(ii)    शाखाओं /बैंक के व्यवसाय - वृद्धि को प्रभावकारी नियंत्रण - प्रणाली के तहत सुनिश्चित करें ।
अतः सभी स्टाफ सदस्यों से अपेक्षा है कि व्यक्तिगत लाभ - हानि से ऊपर उठकर संस्था के व्यापक हित में सोचे तथा साकारात्मक व्यवहार करें क्योंकि हमारा भविष्य बैंक से जुड़ा है। और हाँ, हमारा अपने ग्राहकों के प्रति भी महती जिम्मेवारी बनती हैं, आखिरकार कितने भरोसे के साथ हमसे जुड़े हुए हैं। अतः ग्राहक सेवा के स्तर को हमें अधिकाधिक सुधार करने की जरूरत है ताकि हम ग्राहकों की उम्मीदों पर खरे उतर सकें।
मुझे आशा है नए वर्ष में बैंक हित में आप साकारात्मक पहल करेंगे।
पुनश्व, नूतन वर्ष 2020 आपके एवं आपके परिवार के लिए यशस्वी, सुखद व मंगलमय हो, इसी कामना के साथ,


 

Call Us Now 1800 1807 777
Emal Us enquiry@dbgb.in
Our Company Asochak, Patna - 800016